Chanakya Niti: पति-पत्नी की आयु में इतना होना चाहिए अंतर ,तभी रह सकते है खुश!

Chanakya Niti: जैसा कि आप सभी तो जानते ही हैं हमारा अर्थ इतना बड़ा है कि प्रत्येक दिन किसी न किसी व्यक्ति का विवाह होता ही रहता है।इनमें से कुछ व्यक्ति ऐसे होते हैं जिनका विवाहित जीवन अच्छा नहीं चलता रहता है।इसी वजह से उन्हें आगे जाकर काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। आचार्य चानक जी ने अपने नीति में विवाहित जीवन को सही रास्ते पर चलने के लिए कुछ महत्तवपूर्ण बात कहें हैं जिससे उन दोनों का जीवन अच्छे से चले इस बारे में भी उल्लेख क्या है। 

अगर कोई व्यक्ति आचार्य चाणक जी के कही बातों के अनुसार उन रास्तों पर चले तो उनका विवाह की जीवन बहुत अच्छा चलेगा। परंतु आज के इस युग में ऐसे बहुत से कम व्यक्ति हैं जो की आचार्य चाणक जी के बातों पर चलना सही मानते हैं।आचार्य चाणक जी ने अपनी नीति में इसका भी उल्लेख क्या है।कि एक पत्नी और पति की आयु के बीच कितना अंतर होना सही होगा क्योंकि कई बार ऐसा देखा जाता है।कि इस उम्र के वजह से ही उन दोनों के संबंधों के बीच समस्या पैदा या उत्पन qहोती रहती है। ]

   

पति-पत्नी की उम्र में कितना अंतर होनी चाहिए?

हिंदू रीति रिवाज के अनुसार शादी को एक पवित्र बंधन के रूप में देखा जाता है।जिसमें एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति का मिलन होता है।और साथी उन दोनों को अपना बेहतर जीवन जीने के लिए और सरल बनाने के लिए एक दूसरे को समझना और साथ देना बहुत ही जरूरी माना जाता है।लेकिन आजकल देखा जाता है कि कई ऐसे ही व्यक्ति होते हैं।जो कि अपनी शादी से खुश नहीं होते हैं।अचार चाणक्य जी का मानना है कि शादी से पहले पति और पत्नी की उम्र को ध्यान में अवश्य रखना बहुत जरूरी होता है। 

आचार्य चाणक्य जी कहते हैं कि एक पति और पत्नी को मानसिकता और शारीरिक्त दोनों रूप से मजबूत रहना चाहिए। अगर मानसिकता और शारीरिक्त मजबूत नहीं रहेगी तो उन दोनों के संबंधों के बीच समस्या पैदा होगी। और वह अपने लाइफ में कभी खुश नहीं रह पाएंगे यही एक वजह है कि आचार चाणक जी विवाह से पहले पति और पत्नी के बीच उम्र के अंतर को ध्यान में रखते हुए उनका विवाह करवाया जाए और अगर उन दोनों के आयु के बीच अधिक का फैसला हो तो उनका कभी भी शादी नहीं करवाना चाहिए। 

आचार्य चाणक जी अपने ग्रंथ में उल्लेख करते हुए कहे है कि एक पति को अपने शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत रहना चाहिए। जिससे वह अपने जीवन साथी को शारीरिक रूप से खुश कर सके।अगर पति शारीरिक रूप से कमजोर रहेगा तो वह अपनी पत्नी की सभी इच्छा पूरी नहीं कर पाएगा जिससे उनकी रिश्तो में दरार आना शुरू हो जाएगी। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें