Important News: फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट ने पहुंचाया जेल: आधार से लेकर डीएल तक बनेगा एक डॉक्यूमेंट से, बर्थ सर्टिफिकेट है अनिवार्य

Important News: क्या आप सभी जानते हैं।समाजवादी के नेता समेत उनके पूरी फैमिली को फर्जी जन्म प्रमाण पत्र के मामले में उन्हें कोर्ट के द्वारा 7 साल का सजा सुनाया गया। जिसमें समाजवादी नेता आज़म खान और उनकी पत्नी ताजिम फातिमा और साथी उनके बेटा अब्दुल्ला आजम खान भी शामिल थे। 

इसके साथ-साथ उन पर ₹50000 रुपए का जुर्माना भी ठोका गया और साथी MP, MAL मजिस्ट्रेट तीनों को फर्जी सर्टिफिकेट बनाने के जुर्म में दोषी पाया गया। इन्हीं फर्जी सर्टिफिकेट के चलते आजम खान एक बार अपने गांव का प्रधान भी चुने से रह गए। 

   

फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट ने पहुंचाया जेल

अगर आप सभी को भी लगता है।कि बर्थ सर्टिफिकेट बनाना बहुत आसान है।या अभी भी बहुत ही हल्के में समझते हैं और अभी तक आपने अपने बच्चों का जन्म प्रमाण पत्र  नहीं बनवाया है।और बनवाना चाहते हैं तो यह जानकारी आपके लिए ही है। 

आज हम आप सभी को बताने वाले हैं कि बर्थ सर्टिफिकेट क्यों आवश्यक होता है और साथी इस आप कैसे बना सकते हैं और आपके बर्थ सर्टिफिकेट बनाने के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट देना पड़ता है। 

आप सभी के जानकारी के लिए हम बता देना चाहते हैं कि 1 अक्टूबर से जन्म प्रमाण पत्र और मृत्यु प्रमाण पत्र संशोधन अधिनियम के अंतर्गत 2023 में ही इसे चालू कर दिया गया है जिसके साथ ही इसका आप आधार कार्ड के साथ-साथ और अन्य दस्तावेजों में भी बर्थ सर्टिफिकेट का एक महत्वपूर्ण योगदान हो गया है। 

बर्थ सर्टिफिकेट है अनिवार्य

साथी आप लोगों को यह भी जान लेना आवश्यक है।कि नए नियम के अनुसार अब जन्म प्रमाण पत्र और साथी मृत्यु प्रमाण पत्र का रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक हो गया है। साथी इसका उपयोग सिंगल डॉक्यूमेंट के रूप में किया जाता है। 

अगर आप जन्म प्रमाण पत्र बनवा लेते हैं।तो आपका कार्य केवल इस जन्म पर मां पत्र से ही पूरा हो जाएगा जैसे की ड्राइवरी लाइसेंस बनवाना आधार कार्ड और इंर्पोटेंट डॉक्युमेंट्स बिना किसी दिक्कत से आप बनवा सकते हैं साथी आप इसे अगर फर्जी के तहत बनवेट हैं तो आपको जेल का सजा और जुर्माना भरना पड़ सकता है। 

अब बच्चे का जन्म के साथ ही उसका जन्म प्रमाण पत्र बनवा लेना चाहिए क्योंकि जन्म प्रमाण पत्र बहुत ही आवश्यक हो गया है।जब भी कोई नया बच्चा का जन्म होता है तो उसके 21 दिन बाद आप उसे बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र बनवा पाएंगे। 

बर्थ सर्टिफिकेट का अर्थ होता है की जन्म के साथ ही यह जानकारी रख लिया जाता है।कि वह बच्चा कब पैदा हुआ है। कितने तारीख को हुआ और कितने बजे हुआ है।और साथी वह कहां पर पैदा हुआ है।इसकी जानकारी बर्थ सर्टिफिकेट से प्राप्त हो जाती है साथी अब आज के इस दौर में बर्थ सर्टिफिकेट बहुत ही आवश्यक हो गया है। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें