Indian Railway: वेटिंग टिकट पर मुश्किलें बढ़ने वाली हैं! अब सीट की लिमिट होगी निर्धारित

Indian Railway: जैसा कि आपकी को पता ही है।भारतीय रेल में टिकट कंफर्म होने का चांस बहुत ही काम होता है।अगर खासकर त्यौहार के बारे में बात करें तो उसमें आपको लगभग प्रत्येक ट्रेन में टिकट वेटिंग ही देखने को मिलती है।इसे देखते हुए पूर्व रेलवे केरल बोर्ड ने वेटिंग टिकट वालों के लिए एक सुझाव दिया था।

साथी अगर सुझाव का मंजूरी मिल जाता है।तो कंफर्म बर्थ वाले यात्रियों को यात्रा करने में काफी सुविधा देखने को मिलने वाली है।इसका साफ तौर पर अर्थ होता है।कि नई व्यवस्था में कंफर्म हो जाने वाले वेटिंग टिकट अधिक बढ़ोतरी हो जाएगा और टोटल इसे मिलाकर 40 वेटिंग कन्फर्म टिकट भी मिलेंगे और साथी अब ट्रेन में मेडिकल इमरजेंसी जैसी सुविधा भी देखने को मिलने वाली है।

   

वेटिंग टिकट पर मुश्किलें बढ़ने वाली हैं! 

अब भारतीय रेलवे में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की तरफ से अब हर एक नई फैसला देखने को मिल रहा है जिससे आने वाले समय में जब भी आरक्षित प्रणाली को चालू कर दिया जाएगा तब हमें इसके साथ ही कई बदलाव देखने को मिलने वाले हैं जिसे देखते हुए ही रेलवे बोर्ड ने सभी क्षेत्र रेलवे के व्यवस्था को अपनी-अपनी सुझाव देने को कही है।जिसे देखते हुए उत्तर रेलवे के तरफ से वेटिंग टिकट को लेकर एक नया फार्मूला रेलवे को दे दिया है।जिसमें खुद-ब-खुद कंफर्म हो जाने वाले टिकट को लेकर रेलवे बोर्ड ने इसे बयां मांगा था जिसमें 10 फीसदी से अधिक वेटिंग टिकट देखने को मिलता है। 

अब अगर उत्तर रेलवे द्वारा रेलवे बोर्ड को दी गई व्यवस्था को चालू कर दिया जाता है, तो हमें कुछ दिनों में ही कंफर्म सीट के साथ-साथ वेटिंग टिकट वाले को भी यात्रा करने दिए जाएंगे ऐसा नहीं है कि आप ही वेटिंग टिकट वाले ट्रेन में सफल नहीं करते हैं ऐसा देखा जाता है, कि कंफर्म टिकट वालों के साथ-साथ वेटिंग टिकट वाले भी ट्रेन में सफर करते हैं।इन्हीं वजह से ट्रेन में गाड़ी देखने को मिलती रहती है। जिससे कंफर्म सीट वाले पैसेंजर को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ जाता है। 

अगर बात की जाए तो त्योहार सीजन में तो इंडियन रेलवे के तरफ से इतनी सारी स्पेशल ट्रेन दी जाने के बाद भी काफी लोग ऐसे रहते हैं जिनका टिकट वेटिंग में रहता है और उन्हें उसी में सफर करना पड़ जाता है उसमें से भी केवल 10% लोगों का टिकट कंफर्म हो पता है और 90% लोग वेटिंग में ही सफर करते रह जाते हैं। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें