भारत ही नहीं विदेशों में भी धूम मचा रही मेड इन इंडिया बाइक

जैसा कि आप सभी जानते ही होंगे भारत में बजाज की बॉक्सर बाइक को लोगों द्वारा कही पसंद किया जाता था साथिया बाय बहुत ही पहले कंपनियों के द्वारा बंद कर दिया गया है।लेकिन अभी भी विदेश में इसका बहुत ही अच्छा खासा डिमांड देखने को मिलता है। बस यही है कारण कि भारत से बाइक बनने वाली यह बाइक देश से बाहर एक्सपोर्ट होने में नंबर वन बना दी है।आई आज हम आप सभी को इसके बारे में विस्तार रूप से समझते हैं। 

जैसा कि फिलहाल देखा जा रहा है टू व्हीलर और थ्री व्हीलर के कंपनियां बजाज ऑटो का बिक्री मे लगातार बढ़ोतरी होती जा रही है जैसा कि बताया जा रहा है वर्ष 2023 के September में बजाज कंपनी द्वारा 3 पॉइंट 83% वृद्धि से ग्रोथ होते हुए देखा गया है। कई जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि बजाज के माध्यम से एक साल पूर्व शिफ्ट की गई 1,18,388 यूनिट की तुलना में कंपनी द्वारा 2023 के September में 1,22,920 मिनट का निर्यात देखने को मिला है।कंपनी द्वारा साल दर साल के अंतर से 4,532 मिनट की बढ़ोत्रि देखने को मिली है।चलिए आप सभी को हम इसके बारे में पूरा विस्तार रूप से डिटेल देते हैं। 

   

जहां हम बात कर रहे हैं निर्यात की बजाज बॉक्सर के द्वारा 17.26% की वार्षिक वृद्धि अचीव की है जैसा कि देखा जा रहा है बजाज बॉक्सर के द्वारा 73204 यूनिट के साथ-साथ चार्ट में भी सबसे ऊपर स्थान प्राप्त की है आपको यह जानकर बहुत ही आश्चर्य लगेगा कि सिर्फ एक बॉक्सर ही बाइक है जो की 59.55 प्रतिशत की मार्केट में हिस्सेदारी रखती है। अगर वहीं हम बात दूसरे स्थान पर करें तो उसमें 22478 नेट की सीटमेंट के साथ पल्सर देखने को मिलती है।जॉकी वार्षिक वृद्धि में 27.61% हासिल की है। बाजार की कुल बिक्री लगभग 22.35 प्रतिशत देखने को मिलता है

अगर बात किया जाए तीसरे स्थान पर कौन सा बाइक है तो इसमें आपको जिनके द्वारा पिछले महीने में 10,998 और 6,848 यूनिट इंडिया से बाहर ट्रांसपोर्ट किया गया है। पर बात किया जाए सीट 100 बाइक के कंपनी की तो इसमें वर्ष दर वर्ष 40.04% गिरावट देखने को मिल रही है

जिसके साथ-साथ पलटीना कंपनी द्वारा 2,280 यूनिट की शिपिंग वर्ष दर वर्ष 2.70% वृद्धि देखने को मिली है। लास्ट में हमारे पास सिर्फ ₹1,902 एवं 210 यूनिट के साथ डोमिनार एवं अवेंजर देखने को मिल जाती है। इन दोनों कंपनियों का निर्यात रेड लाइनों पर देखा गया है जिसमें वार्षिक के आधार पर 32.31% और 42.62% की गिरावट देखने को मिली है। बजाज कंपनी द्वारा पिछले कुछ महीनो में इलेक्ट्रिक वाहन भारत से बाहर ट्रांसपोर्ट नहीं किया है। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें