Navratna Company: इन दो रेलवे कंपनी की आई मौज, नवरत्न का दर्जा मिलते ही कमा लिए अरबों रुपये

Navratna Company: जैसा कि आप सभी को पता ही होगा किसी भी कंपनी को होगा नवरत्न का मन मिल जाता है।तो इसका साफतोर अर्थ होता है कि वह कंपनी व्यापार में काफी अच्छा पद हासिल कर लिया है।जिससे उनके कर्मचारी और रेवेन्यू को प्रॉफिट मिलने का ज्यादा चांस बढ़ जाता है सुनने में आया है कि वित्त मंत्रालय के माध्यम से रेलवे से जुड़ी दो कंपनियां जो राय लिमिटेड और साथी हीरो कौन उन दोनों कंपनियों को नवरत्न का मान दिया गया है।और इसके साथ ही October 2023 से 14 से आगे बढ़कर 16 पर पहुंच गई है। 

Railway मंत्रालय के माध्यम से यूरोपीय इंटरनेशनल लिमिटेड साथ ही राइट्स लिमिटेड को बढ़ाकर 15 में और 16 नवरत्न के रूप में इसे सम्मानित किया गया है।साथी दोनों कंपनियों को केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के रूप में इसे शामिल कर लिया गया है।देखा जाए तो इसे पहले भारत में टोटल 14 नवरत्न कंपनियां शामिल थी जिसमें अब संख्या बढ़कर 16 पहुंच गई है। 

   

अगर देखा जाए तो हीरो कौन इनकॉरपोरेट को हुए 47 वर्ष पूरे हो चुके हैं।साथिया इंडियन रेलवे के निर्माण कार्य का एक जिम्मेदार तौर पर संचालन करती है।जो कि इसकी मुख्य क्षमता देखा जाए तो रेलवे राजमार्ग और साथ ही एक्स्ट्रा हाई स्टेशन सबस्टेशन इंजीनियरिंग एवं इसके निर्माण में होती है हीरो कौन का भारत के साथ-साथ दूसरे देशों में भी संचालन का निर्माण करती है।कंपनियों के बीते साल 2022-23 में 10,750 का रुपए का कंसोल डेटेड एनिमल business और 765 करोड रुपए का नेट प्रॉफिट हासिल करने में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। 

किसी भी कंपनी को अगर नवरत्न का दर्जा मिल जाए तो उसकी ब्रांड वैल्यू वह सिर्फ बाजार में प्रवाहित ढंग से विकास के लिए नए मोर्चे पर अधिक दम खम से आगे बढ़ाने में काफी हद तक सहायता मिलती है।साथ ही नवरत्न का दर्जा मिलने पर कंपनियों को बाजार की विश्व नेता को आगे लेकर और बड़े आंकड़ों पर PPP शुरू करने में काफी हद तक लाभ प्राप्त होगा। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें