रतन टाटा ने गरीबों का सपना किया साकार…..! देश के एक लाख लोगों को मिलेगी सस्ती इलेक्ट्रिक कार

जाने-माने उद्योगपति व परम मानवतावादी शख्सियत रतन टाटा की कंपनी टाटा मोटर्स अब देश के मिडिल क्लास और लोअर मिडल क्लास फैमिली को उपलब्ध कराएगी सस्ती इलेक्ट्रिक कार। टाटा कंपनी ने आम गरीब जनता के लिए सस्ती कार उपलब्ध करवाने की एक नई योजना बनाई है। पिछले कुछ महीनो में इस कंपनी ने नेक्सन, टाइगर व टियागो के इलेक्ट्रिक मॉडल को बाजार में उतारा है।

जनवरी में सबसे पॉपुलर टॉप सेलिंग SUV टाटा पंच EV को भी बाजार में लॉन्च कर दिया गया है। टाटा मोटर्स का लक्ष्य है कि उनके प्रत्येक प्रोडक्ट को एक नया सेगमेंट मिले और ग्राहकों को उसके इस्तेमाल करने का मौका भी दिया जाए। यह तभी संभव हो पाएगा जब उत्पाद आम आदमी के बजट में हो।

   

टाटा मोटर्स यह भी चाहती है कि आने वाले 1 साल में वह कम से कम 1 लाख से अधिक ग्राहकों तक अपनी यह सस्ती इलेक्ट्रिक कारें पहुंचा सके। आज के आलेख में हम आपको टाटा कंपनी की इस मिडिल क्लास अनुकूल कामर्शियल प्लानिंग से अवगत कराएंगे। यदि आप भी अपने सीमित बजट में इलेक्ट्रिक कार लेने की सोच रहे हैं तो हमारे आलेख को धैर्यपूर्वक अंत तक पढ़ें।

सबसे पहले टाटा ने किया था नेक्सन EV को लॉन्च

टाटा मोटर्स के एमडी शैलेश चंद्रा ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि उनका दृष्टिकोण सदैव यह रहा कि हर उत्पाद का नया सेगमेंट बनाया जाए जिससे नए ग्राहक को भी EV कार खरीदने का अवसर मिल सके। उन्होंने यह भी कहा कि ग्राहकों को सस्ती EV कार खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने की मंशा से ही सर्वप्रथम हम देश में एक नेक्सन EV कार लेकर आए थे।

उस वक्त हमारे सामने सबसे बड़ा चैलेंज था कि हम नई ईवी को प्राइस कंडीशन की शर्तों को पूरा करते हुए ICE के समान 25 % प्रीमियम के भीतर रख सके। उनके अनुसार बैटरी की कीमतें कम होने के बाद ही उन्होंने नेक्सन की रेंज बढ़ाने का निर्णय लिया। उसके बाद जैसे-जैसे बैटरी की कीमतें कम हुई उन्होंने सबसे किफायती उत्पाद लॉन्च किए ,इनमें सबसे कम कीमत वाली टियागो EV भी शामिल है।

टाटा पंच EV को मार्केट में लॉन्च किया गया

एमडी शैलेश चंद्रा के अनुसार नेक्सन और टियागो के बाद उन्होंने पंच EV को बाजार में उतारा। इस विषय में उनका कहना है कि इसके जरिए वह अपने ग्राहकों को विभिन्न बॉडी व स्टाइलिश लुक के विकल्प उपलब्ध कराना चाहते थे साथ ही कंपनी ने अपने देश के ग्राहकों को सबसे अधिक पॉपुलर सब कंपैक्ट सेगमेंट में एक सेडान, एक हैचबैक और दो एसयूवी दी है। टाटा ने 400 से अधिक किलोमीटर की रेंज प्रदान की है और साथ ही साथ टाटा का प्रयास यह भी रहा है कि वह हर नई लांच से इलेक्ट्रिक वाहनों की मात्रा बढ़ाने का प्रयास करें और क्वालिटी व फीचर्स ऐसे रहें कि ग्राहकों की डिमांड में कमी न आए।

9 से 25 लाख तक की कीमत के अंदर ही रहेगी इलेक्ट्रानिक कार

एमडी शैलेश चंद्रा ने कहा कि वे भविष्य में सस्ती इलेक्ट्रॉनिक कारों को बाजार में उतारने का पूरा प्रयास करते रहेंगे और यदि बात इनकी कीमतों की जाए तो इन इलेक्ट्रॉनिक कारों को 8.50 लाख से 25 लाख की कीमत के अंदर ही रखा जाएगा।

एक वर्ष में 1 लाख इलेक्ट्रिक कार बेचने का निर्धारित लक्ष्य

शैलेश चंद्रा ने कहा कि वर्ष 2024 में उन्होंने एक लाख EV कारों को बाजार में लाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। लेकिन यह भी संभव है कि कुछ कारणों से कंपनी को इस लक्ष्य को हासिल करने में समस्या आ सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि इस साल वह 70,000 से 80,000 EV कारों को बेचने मैं कामयाब हो सकेंगे, लेकिन 2025 तक उनका लक्ष्य रहेगा कि वह एक लाख की बिक्री सफलता पूर्वक कर सकें। साथ ही यह भी कहा कि जिन शहरों के बारे में हमने सोचा था कि वहां पर ग्राहक इलेक्ट्रिक वाहन को वरीयता देंगे, वहां उम्मीद के मुताबिक सफलता नहीं मिली। संभवतः इन्हीं कारणों ने एक लाख के निर्धारित लक्ष्य को हासिल करने में समस्या पैदा की।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें