RBI ने देशवासियों को दिया झटका, 2 हजार के बाद 500 रुपये के नोट को लेकर जारी किया अलर्ट, जानिए क्या है नया अपडेट

भारतीय रिजर्व बैंक देश का केन्द्रीय बैंक होने के नाते बैंकों की आर्थिक नीतियों व गतिविधियों को संचालित करता रहता है ताकि आम जनता को मुद्रा संबंधी भ्रांतियों का सामना न करना पड़े। अभी हाल ही में 500 रूपए के नोटों की वैधानिकता के विषय में कुछ भ्रांतियां हो रही हैं जिनकी प्रतिक्रिया स्वरूप RBI ने अपनी ओर से बयान जारी करते हुए कुछ महत्वपूर्ण स्पष्टीकरण दिया है।

आज के आलेख में हम आपको उपर्युक्त जानकारी से विधिवत् अवगत कराने जा रहे हैं। हमारे आलेख को पूरा पढ़कर आप भी इस जानकारी का लाभ उठाएं और अपने आस पास भी सही सूचना संप्रेषित करने में सहयोग दें।

   

क्या है वायरल खबर की सच्चाई?

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया के द्वारा ₹500 के नोट को लेकर एक बड़ा बयान जारी किया गया है। मीडिया से मिली खबरों के मुताबिक मार्केट में स्टार मार्क (*) वाले कुछ नोट सर्कुलेट हो रहे हैं जिन्हें सोशल मीडिया पर नकली बताया जा रहा है, इसी खबर को लेकर आरबीआई द्वारा ये बयान जारी किया गया है जिसके तहत रिजर्व बैंक आफ इंडिया ने कहा कि यह नोट भी असली है और वायरल पोस्ट में किए जा रहे दावे बिल्कुल गलत हैं। दरअसल कुछ समय पहले सरकार ने ₹2000 के नोटों का सरकुलेशन बंद किया है जिसके कारण ₹500 के नोटों को लेकर लोगों में चिंता और भ्रम की स्थिति हो गई है।

RBI का स्पष्टीकरण

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने बताया कि स्टार मार्क वाले बैंक नोट पूरी तरह से असली हैं और ₹10 से लेकर के ₹500 तक के कई ऐसे नोट चलन में है जिनपर हर सीरीज के बीच तीन अक्षरों के बाद स्टार (*) का निशान बना हुआ है और उसके बाद में शेष नंबर लिखे हैं। आरबीआई द्वारा यह भी स्पष्ट किया गया कि नंबर के साथ बना स्टार मार्क बताता है कि यह एक बदला हुआ रिप्रिंट हुआ बैंक नोट है और यह नोट पूरी तरह से असली है।

पहले से ही प्रचलन में हैं स्टार मार्क वाले नोट

RBI ने यह भी स्पष्ट किया कि स्टार मार्क वाले नोट वर्ष 2006 से ही चल रहे हैं। इन्हें 2006 में ही शुरू कर दिया गया था किंतु 2006 की शुरुआत में केवल स्टार मार्क वाले 10, 20 और 50 के नोट की छापे जाते थे पर अब ऐसे बड़े नोट भी छापे जाने लगे हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जब भी आरबीआई द्वारा ऐसे करेंसी नोट जारी किए जाते हैं तो उनके पैकेट के ऊपर लिखा होता है कि इस पैकेट में यह स्टार मार्क वाले नोट हैं जिससे उनकी पहचान प्रामाणिक हो सके।

ये है स्टार मार्क वाले नोटों के पीछे की वास्तविकता

ऐसे करेंसी नोट जो छपाई के दौरान खराब हो गए होते हैं, उन्हें रिप्रिंट किया जाता है और ऐसे नोटों में स्टार चिन्ह अंकित होते हैं। दरअसल आरबीआई 100 नोटों की एक गड्डी प्रिंट करता है जिसमें से कुछ नोटों में खामियां रह जाती हैं, उन्हीं नोटों को नई सिरीज़ के रूप में री-प्रिंट किया जाता है। इन नोटों की वैल्यू भी उतनी ही होती है जितनी कि पहले वाले नोटों की, अतः यदि लेन देन के दौरान आप के पास इस तरह का कोई नोट आ जाए तो उसे लेकर भ्रमित न हों क्योंकि ये भी अन्य नोटों की तरह प्रचलन में है।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें