एसी कोच में हुई महिला की डिलीवरी, बेटी का नाम ट्रेन के नाम पर, दिल्ली से बांदा की यात्रा

आप सभी ने यह कभी ना कभी जरुर सुना होगा कि किसी लेडिस को ट्रेन में भी बच्चे हुए हैं। \लेकिन यह सच्ची घटना है। Up के महोबा जिले में स्थित हरपालपुर स्टेशन के पास ही हजरत निजामुद्दीन से मानिकपुर तक सफर करने वाली संपर्क क्रांति ट्रेन में एक महिला ने बच्चों को ट्रेन में ही जन्म दिया।

बताया जा रहा है।कि महिला अकेले ही ट्रेन में निजामुद्दीन से बांदा की सफर कर रही थी। इसके पश्चात ही उन महिला के ट्रेन में ही दर्द पीड़ा शुरू हो गया इसके बाद मऊ रानीपुर और हरपालपुर के मध्य उसने एक बच्ची को जन्म दे दिया और साथ ही उन्होंने बच्ची का नाम ट्रेन के ही नाम पर रखा है।

   

बताया जा रहा है कि TT साहब के द्वारा इसकी जानकारी हरपालपुर प्रबंधकों को दिया। इसके बाद ही स्टेशन प्रबंधकों के माध्यम से हरपालपुर स्टेशन पर एंबुलेंस और मेडिकल भेजा गया असाटी महिला को एंबुलेंस अस्पताल ले गया।  जहां पर मां और नवजात पूरी तरह से ठीक एवं स्वस्थ है। 

बताया जा रहा है कि उसे महिला की उम्र 23 साल की थी जिनका नाम मनु वर्मा पति का नाम पुतुल वर्मा वह दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन से अपने घर बांधा जा रही थी इसके पश्चात Up शपथ क्रांति 12448 के ट्रेन बोगी में सवार थी। इसके बाद बीच सफर में ही महिला को दर्द शुरू होने लगा उन महिला की परेशानी को देखते हुए आसपास के पैसेंजर में टीटी को इनफॉर्म क्या और उन्हें बताया कि इनके साथ ऐसा ऐसा प्रॉब्लम हो रहा है और साथ ही टीटी के साथ महोबा GRPF को भी सूचना दी गई। 

इसके बाद उसे महिला को एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया जब ही ट्रेन हरपालपुर स्टेशन पर पहुंच गई उसे पहले ही 108 पर एंबुलेंस के साथ उपस्थित स्वास्थ्य केंद्र AANM द्वारा ट्रेन की बोगी में उन महिला की डिलीवरी की गई। इसके साथी महिला ने स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया।और डिलीवरी होने के बाद हरपालपुर स्टेशन पर 10 मिनट से अधिक समय तक ट्रेन रुकी रही। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें